वैष्णो देवी हेलीकाप्टर टिकट घोटाले में जमानत अर्जी रद्द

कटड़ा के सब जज संदीप गंडोत्रा ने कटड़ा में हेलीकाप्टर टिकट घोटाले के आरोपी नरेंद्र शर्मा की जमानत की अर्जी को रद कर दिया।

पुलिस रिपोर्ट अनुसार 24 दिसंबर 2016 को पुलिस स्टेशन कटड़ा में श्राइन बोर्ड कटड़ा ने शिकायत दर्ज कराई कि कुछ ट्रेवल एजेंट अवैध तरीके से हेलीकाप्टर की टिकटें बेच रहे हैं। कटड़ा और आसपास क्षेत्र में मौजूद ट्रेवल एजेंट श्री माता वैष्णो देवी श्रद्धालुओं को लूट रहे हैं। कई ऐसी वेबसाइट हैं, जिसमें श्री माता वैष्णो देवी के दर्शन, पर्यटक स्थलों का भ्रमण और कई पैकेज दिए गए।

अवैध एजेंटों ने कटड़ा से सांझी छत सेक्टर में हेलीकाप्टर की अवैध तरीके  से टिकट वितरण की ब्लैक मार्केटिंग शुरू की। कई एजेंसियों ने धोखाधड़ी की। वेबसाइट में श्रद्धालुओं से हो रहे धोखाधड़ी के लिए श्राइन बोर्ड के सीनियर अधिकारी डा. पियूष सिंघला, अतिरिक्त कार्यकारी अधिकारी अमित वरमानी, डिप्टी कार्यकारी अधिकारी आदि की टीम का गठन किया गया।

जांच में पाया गया कि हेलीकाप्टर की टिकट 21 दिसंबर, 2016 को बुक की र्गई। स्थानीय ट्रेवल एजेंटों की तरफ से टिकट 24 दिसंबर, 2016 तक बुक थी। दो लोग सुदर्शन कुमार और दर्शन कुमार के नाम दो रातें और तीन दिन का पैकेज जारी किया गया था। बुकिंग का रेफरेंस भी दिया गया और होटल लेमन से टिकटें बुक की गई थीं। उसमें एक स्थानीय एजेंट का नंबर भी दिया गया।

बुकिंग के आधार पर कोआर्डिनेशन के लिए नरेंद्र शर्मा का फोन नंबर दिया गया। दोनों गेस्ट ने 23 दिसंबर को होटल से शाम छह बजे चेक आउट किया। दर्शन कुमार के मोेबाइल से नरेंद्र शर्मा से संपर्क किया गया। इस बीच श्राइन बोर्ड कार्यालय से दर्शन कुमार और नरेंद्र शर्मा की सभी करंट बुकिंग की जांच शुरू कर दी।

सीनियर अधिकारियों की मूवमेंट के बाद लोकल एजेंट सतर्क हो गए। इस मामले में पुलिस भी मौके पर पहुंची और कई एजेंटों को पकड़ा। कोर्ट ने एजेंट नरेंद्र शर्मा की जमानत को रद्द करते हुए कहा कि इस मामले में जांच अभी जारी है।

source: http://www.amarujala.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *